प्रेगनेंसी में क्या नहीं पीना चाहिए

39

प्रेगनेंसी में क्या नहीं पीना चाहिए

loading...

यदि प्रेगनेंसी के लक्षण सामने आए तो महिलाओं को पूरी तरह से सतर्क हो जाना चाहिए। डॉक्टरों की सलाह रहती है कि परिवारवालों के अलावा खुद गर्भवती महिला अपनी सेहत का पूरा ख्याल रखे। प्रेगनेंसी का पहला महीना लगे या चौथा इस दौरान उन्हें क्या खाना या पीना चाहिए इस बात का भी उन्हें पूरा ध्यान देना चाहिए। एक सवाल जो प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाएं पूछती हैं कि प्रेगनेंसी में क्या नहीं पीना चाहिए ?

गर्भावस्था के दौरान होने वाली मामूली सी गलती भी जच्चा और बच्चा के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। इस दौरान शुगर, ब्लड प्रेशर और वजन का भी खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। दरअसल देखा गया है कि जानकारी के अभाव में महिलाएं कुछ भी खा लेती हैं, जिसका असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ता है। ऐसे में कुछ भी खाने से पहले गर्भवती महिला को डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

प्रेगनेंसी में क्या नहीं पीना चाहिए ?

#1 सॉफ्ट ड्रिंक

एक अध्ययन के मुताबिक, गर्भावस्था में सॉफ्ट ड्रिंक, सोडा और दूसरे शुगर से भरपूर ड्रिंक पीने से शिशु का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। बच्चों को मोटापे की शिकायत हो सकती है। विशेषज्ञों की मानें तो गर्भावस्था में सॉफ्ट ड्रिंक पीने वाली महिला के होने वाले बच्चे का बॉडी मास इंडेक्स काफी उच्च होता है। इनसे उनके बच्चे को छोटी उम्र में ही पाचन और वजन से जुड़ी समस्याएं हो जाती हैं।

#2 शराब का सेवन न करें

वैसे तो शराब का सेवन किसी भी महिला-पुरुष को नहीं करनी चाहिए। फिर भी अगर महिला शराब का सेवन करती है तो उसे गर्भावस्था के दौरान खुद पर रोक लगानी चाहिए। बता दें, एक शोध में भी साबित हुआ है कि गर्भावस्था के दौरान शराब पीने से बच्चे में 428 तरह के रोगों के होने का खतरा हो सकता है। शोध के अनुसार गर्भावस्था के किसी भी चरण में, किसी भी मात्रा या प्रकार के शराब का सेवन सुरक्षित नहीं है और यह विकसित होते भ्रूण के किसी भी अंग या अंग प्रणाली को प्रभावित कर सकता है।

#3 ग्रीन टी का सेवन न करें

खुद को स्लिम और फिट रखने के लिए इन दिनों ग्रीन टी का चलन बहुत ही ज्यादा हो चला है। घर पर तो लोग इसका यूज करते ही हैं, ऑफिस में भी इसकी सुविधा है। लेकिन जानकारी के अभाव में कई लोगों को स्वास्थ संबंधी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। जैसे ज्यादा ग्रीन टी पीना आपके सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है उसी तरह प्रेगनेंसी में भी यह आपके लिए सही नहीं है।

आपको बदा दें ग्रीन टी में कैफीन की मात्रा अधिक होती है। ये कैफीन मां और भ्रूण दोनों के लिए हानिकारक हो सकता है। इससे मां के शरीर में आयरन की कमी और बच्चेह के दिमागी विकास में असर पड़ सकता है। इसके अलावा इससे मेटाबॉलिज्मस की स्तर भी बढ़ जाता है। संतुलित मात्रा में ग्रीन टी लेना फायदेमंद हो सकता है। लेकिन खुद को स्लिम करने के चक्कर में ज्यादा ग्रीन टी न पीएं। इसलिए गर्भावस्था में ग्रीन टी का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

शराब, ग्रीन टी और सोफ्ट ड्रींक के अलावा गर्भवती महिला यह कोशिश करे कि वह इस दौरान चाय और कॉफी का सेवन कम से कम करे।

loading...