स्ट्रॉबेरीज हुई सबसे गंदे फलों की लिस्ट में शामिल ,यह है वजेह

86

हम जो फल या सब्जियां आमतौर पर खाते हैं, उसमें कितनी मात्रा में कीटनाशक मिला यह जानकर आपकी आंखें फटी रह जाएंगी। एक अध्ययन में विशेषज्ञों ने कहा है कि सामान्य तरीके से उगाए जाने वाले 70 फीसदी फल व सब्जियों में 230 तरह के कीटनाशक या उसी तरह के अन्य उत्पादों का इस्तेमाल किया गया है।

20 अलग-अलग तरह के पेस्टिसाइड पाए गए
द इनवायरनमेंटल वर्किंग ग्रुप (ईडब्ल्यूजी) के अध्ययन में यह दावा किया गया है। संस्थान ने यह दावा अमेरिकी कृषि विभाग द्वारा जांचे गए उत्पादों के सैंपल के आकलन के आधार पर किया है। इसके मुताबिक स्ट्रॉबेरी और पालक में सबसे ज्यादा मात्रा में पेस्टिसाइड की मात्रा होती है। अध्ययन के दौरान स्ट्रॉबेरी के एक सैंपल को जांचा गया, तो उसमें 20 अलग-अलग तरह के पेस्टिसाइड पाए गए। इसी तरह पालक में उसके वजन से दो गुना पेस्टिसाइड का अवशेष था।

ईडब्ल्यूजी ने 12 सबसे गंदे फल-सब्जियों की लिस्ट जारी की
ईडब्ल्यूजी ने इस अध्ययन के आधार पर 12 ऐसे फलों और सब्जियों की सूची जारी की है, जिसमें पेस्टिसाइड की मात्रा सर्वाधिक पाई गई। संस्थान ने इसे सबसे गंदे फल व सब्जियों की श्रेणी में रखा है। इस सूची में सेब, अंगूर, आड़ू, चेरी, नाशपाती, टमाटर, आलू, सेलेरी और स्वीट बेल पेपर को रखा है। आड़ू, चेरी और सेब की 98 फीसदी से ज्यादा किस्मों में एक से अधिक पेस्टिसाइड पाया गया।

ईपीए को बनाने थे दिशा-निर्देश
संस्थान ने बताया कि इस साल की सूची पिछले साल की तरह ही रही। इससे साबित होता है कि फसलें उगाने के तरीके में कोई खास बदलाव नहीं आया है। अमेरिकी संघीय कानून में 1996 में यह व्यवस्था दी गई कि इनवायरनमेंटल प्रोटेक्शन एजेंसी (ईपीए) फलों और सब्जियों व अन्य खाद्य उत्पादों में पेस्टिसाइड के इस्तेमाल देखेगी और नियम बनाएगी।

पेस्टिसाइड का सेहत पर असर पता चला
ईपीए का काम पेस्टिसाइड के खतरनाक केमिकल का इनसान की सेहत पर असर देखना था। एक ताजा शोध में कहा गया है कि खाने की चीजों में पेस्टिसाइड के अत्यधिक इस्तेमाल से प्रजनन क्षमता प्रभावित हो सकती है। इस अध्ययन के जरिये पहली बार पेस्टिसाइड का सेहत पर असर का संबंध पता चल सका है। हालांकि इस क्षेत्र में अभी और अध्ययन की जरूरत है।

ये हैं सबसे सुरक्षित फल
विशेषज्ञों ने सबसे गंदे फल और सब्जियों की तरह सुरक्षित फलों और सब्जियों की भी सूची जारी की है। इसमें एवोकाडो, स्वीट कॉर्न, अन्नास, बंद गोभी, प्याज, फ्रोजेन स्वीट पीज, पपीता, एसपरेगस, आम, बैंगन, कीवी, फूल गोभी, ब्रॉकली, कैंटालूप्स और खरबूजा शामिल हैं।